profile-img

राजस्थान बिजनिस रजिस्टर

मुखपृष्ठ  »  उत्पाद और प्लेटफार्म  »  राजस्थान बिजनिस रजिस्टर

राजस्थान बिजनिस रजिस्टर

https://br.raj.nic.in

राजस्थान बिजनिस रजिस्टर व्यापार, होटल, रेस्तरां, परिवहन, भंडारण, संचार, अचल संपत्ति, कानूनी और व्यावसायिक सेवाओं, उद्योग, कारखानों और अन्य सभी गतिविधियों से संबंधित जानकारी के साथ व्यावसायिक प्रतिष्ठानों का एक फ्रेम है जो वस्तुओं के उत्पादन और सेवाओं में संलिप्त है, एवं राज्य की आय में अह्म भूमिका निभाते हैं।

वर्ष 2016 में राजस्थान सरकार द्वारा अधिसूचित किया गया कि राजस्थान राज्य में किसी भी प्रकार का व्यवसाय स्थापित करने वाले उद्यमी को बिजनिस रजिस्टर नम्बर (BRN) ऑनलाइन प्राप्त करना होगा। बिजनिस रजिस्टर नम्बर (BRN) जारी करने की प्रक्रिया को सरल करने के लिए, एनआईसी राजस्थान द्वारा BR पोर्टल विकसित किया गया जिसके माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया को नागरिकों के लिए सरल और स्वचालित किया गया है। राज्य में बिजनिस रजिस्टर नम्बर (BRN) प्राप्त करने के लिए ‘बीआर’ पोर्टल के अतिरिक्त कोई अन्य तरीका उपलब्ध नहीं है और नागरिकों को अपने BRN के पंजीकरण के लिए किसी कार्यालय में जाने की आवश्यकता भी नहीं होती है। व्यावसायिक उद्यमी अपनी व्यावसायिक इकाई को ‘बीआर’ पोर्टल पर ही पंजीकृत कर सकते हैं। कागजी दस्तावेजों के प्रवाह को कम करने के लिए पोर्टल को राज्य के सिंगल विंडो सिस्टम और अन्य पंजीकरण संस्थानो के साथ एकीकृत किया गया है। वर्ष 2018 में, सरकार ने ‘बीआर’ पोर्टल के माध्यम से BRN लेने के लिए राज्य मे स्थापित या स्थापित होनेवाले सभी NGO/VO को भी निर्देश जारी किए।

बिजनिस रजिस्टर जिला स्तरीय सांख्यिकीय जानकारी एवं समय-समय पर क्षेत्रवार सर्वेक्षण करने मे राज्य के लिए एक उपयोगी उपकरण के रूप में कार्य करता है। प्रारंभ में समस्त व्यवसायिक संस्थानो की जानकारी के लिए उद्योग विभाग से जिलेवार व्यवसायिक उद्यमियों का डेटा लिया गया । ततपश्चात सर्वेक्षण के माध्यम से सक्रिय व्यावसायिक संस्थाओं की पहचान की गई और आदिनांक डाटा को ‘बीआर’ पोर्टल में इंपोर्ट(दर्ज) किया गया। बाद में सभी नए व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को ‘बीआर’ पोर्टल पर पंजीकरण करना आवश्यक कर दिया गया ।

मुख्य विशेषताएं

  • राज्य भर में (बीआरएन) पंजीकरण की एक समान प्रक्रिया ।
  • पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जाता हैं एवं राज्य मे BRN प्राप्त करने के लिये अन्य कोई तरीका उपलब्ध नहीं है।
  • राज्य में एकल पंजीकरण पोर्टल होने के कारण पंजीकरण दोहराव को रोका जा सका ।
  • केंद्रीकृत पंजीकरण डेटाबेस की उपलब्धता, जिसका उपयोग विभिन्न विश्लेषण उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।
  • जिला और राज्य स्तर पर विभिन्न एमआईएस रिपोर्टों की उपलब्धता।
  • नागरिकों द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण को खोजने एवं पंजीकरण प्रमाण-पत्र डाउनलोड करने की सुविधा।
  • राज्य में समान पंजीकरण प्रमाण पत्र जारी किया जाता है।
  • नागरिकों एवं संबंधित अधिकारियो को अनुदेशों, अधिसूचनाओं आदि का पोर्टल द्वारा जानकारी।
  • नागरिकों को पंजीकरण/संशोधन/ रद्ध करने के एसएमएस अलर्ट।
  • नागरिको ईमेल द्वारा बीआरएन प्रमाण-पत्र भेजने की सुविधा।
  • बीआरएन प्रमाणपत्र पर क्यूआर कोड का उपलब्धता।

प्रमुख लाभ

  • व्यापार पंजीकरण प्रणाली में पारदर्शिता।
  • राज्य की योजनाओ के विकास के लिए क्षेत्रवार व्यवसायिक प्रोफ़ाइल।
  • शीघ्रता से पंजीकरण और प्रमाण पत्र जारी होना।
  • राज्य में आर्थिक जनगणना के लिए उपयोगी।
  • मौजूदा संभावित व्यापार क्षेत्रो का विश्लेषण ।
  • मौजूदा बाजार अनुसंधान का आकलन करना।

विभागो से एकीकरण

  • आधार प्रमाणीकरण के लिए यूआईडीएआई के साथ एकीकरण।
  • परिवार प्रमाणीकरण के लिए राजस्थान जनआधार योजना के साथ एकीकरण।
  • BRN को प्रमाणित करने और BRN की वैधता के साथ उनकी पंजीकृत संस्थानो के पंजीकरण संख्या प्राप्त करने के लिए सभी पंजीकरण प्राधिकारियों के साथ एकीकरण।
error: Content is protected !!